मंडी मेडिकल कॉलेज अस्पताल कोरोना पॉजिटिव मरीजो के लिए मसीहा बनकर उभरा !

0
2460
pornhup.fun hetero teenager assfucked during hazing.
greedyforporn.com
xvideos davia had hot sex.
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

मंडी ! कोरोना संकट के बीच हिमाचल प्रदेश में मरीजों का आंकड़ा 300 पार हो चुका है प्रदेश सरकार द्वारा हिमाचल प्रदेश में जगह-जगह कोविड-19 के सेंटर बनाए गए है जहां पर कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज किया जा रहा है। इन्ही कोविड-19 सेंटर्स में से एक है मंडी जिला का लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कॉलेज यहां पर भी कोरोना पॉजिटिव मरीजों का उपचार किया जा रहा है। यह अस्पताल कोरोना पॉजिटिव मरीजो के लिए मसीहा बनकर उभरा है यहां पर अभी तक 20 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की गई है जिनमें से 14 मरीजों को स्वस्थ कर घर भेज दिया गया है और मौजूदा समय में 5 पॉजिटिव मरीजों का इलाज अस्पताल में चल रहा है जानकारी देते हुए नेरचौक मेडिकल कॉलेज के एमएस डॉ देवेंद्र शर्मा ने बताया कि कोरोना महामारी के बीच मेडिकल कॉलेज नेरचौक को कोविड-19 अस्पताल के रूप में बनाया गया है और कोरोना

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

पॉजिटिव मरीजों का डॉक्टरों की टीम द्वारा अच्छे से इलाज किया जा रहा है। अस्पताल में अभी तक कोविड-19 के 20 मरीज भर्ती हुए है जिनमे से 14 मरीज नेगीटिव होने के उपरांत उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और एक मंडी जिला के रत्ती वार्ड की महिला जो किडनी रोग से पीड़ित थी वह कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी जिनकी दुर्भाग्यपूर्ण यहां पर मौत हुई थी। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में अस्पताल में कोरोना के 5 पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है। उन्होंने कहा कि हमारा पूरा स्टाफ पूरी लगन से यहां पर कार्य कर रहा है और स्टाफ के किसी भी सदस्य में कोई भय नहीं है उन्होंने कहा कि शुरुआत में डॉक्टर को थोड़ा डर था लेकिन अब किसी भी प्रकार का डर डॉक्टरों की टीम में नहीं है और पूरी निर्धनता से डॉक्टरों की टीम इलाज कर रही है उन्होंने कहा कि जो डॉक्टरों की टीम पॉजिटिव मरीजों का इलाज कर रही है भारत सरकार के दिशा निर्देशों अनुसार और स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशा निर्देशों अनुसार इन्हें हर प्रकार की सुविधा यहां पर उपलब्ध करवाई जा रही है।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -

tokyomotion
xnxx sexy busty russian teacher dildoing pussy and ass.
https://http://taxi69.pro/

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

पिछला लेखसुन्नी ! अवैध रूप से की जा रही मलबे की डंपिंग !
अगला लेखमंडी ! नेरचौक मेडिकल कॉलेज को कोविड-19 सेंटर बनाने का विरोध शुरू !