शिमला ! नवरात्रों के दौरान कोरोना के फैलाव को कैसे रोका जाये के लिए बैठक – उपायुक्त

0
1053
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

शिमला जिले में नवरात्रों के दौरान कोरोना के फैलाव को रोका जा सके इस हेतु आयुक्त मंदिर एवं उपायुक्त शिमला अमित कश्यप की अध्यक्षता में बैठक की गई। बैठक में लिये गये फैसले इस प्रकार है !

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

• धार्मिक स्थलों में नवरात्रों के दौरान सामाजिक दूरी बनाएं रखने, मास्क का उपयोग करने तथा हाथों को धोने अथवा सैनेटाइज करना अनिवार्य होगा।
• इस संदर्भ में विभिन्न मंदिर कमेटियों से परिसर में स्कैनर, नल तथा साबुन के लिए फूट पैडल Hand wash की व्यवस्था की जाएगी।
• धार्मिक स्थलों में आने वाले सभी श्रद्धालुओं को आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना अनिवार्य होगा।
• 10 वर्ष से कम आयु के बच्चों, वृद्धों, गर्भवती महिलाओं तथा बीमारियों से ग्रस्त श्रद्धालुओं को मंदिर आने से परहेज रखने की अपील है। ऐसे व्यक्ति यदि मंदिर आना चाहते हैं तो प्रातः काल जल्दी अथवा सांय देरी से आए ताकि भीड़ के संक्रमण से बचा जा सके।
• श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए Online आरती व्यवस्था की जाएगी।
• जाखू, तारा देवी, संकटमोचन तथा कालीबाड़ी मंदिर के समीप लगने वाली सभी दुकानें इस दौरान बंद रहेगी।
• मंदिर में किसी प्रकार का प्रसाद व चुन्नी चढ़ाना, लेना, मूर्तियों को छूना, टीका लगाना अथवा हवन, मुंडन तथा कन्या पूजन आदि वर्जित रहेगा।
• नवरात्रों के दौरान पथ परिवहन निगम की बसें बस स्टैंड तथा आनंदपुर बाइफरकैशन से मंदिर तक आएगी । मंदिर के लिए पार्किंग व्यवस्था आनंदपुर सड़क पर की जाएगी। मंदिर जाने वाली बसों को दिन में चार बार सैनेटाइज किया जाएगा।
• नवरात्रों के दौरान मंदिरों को बंद करने की अवधि आधा से एक घंटे तक बढ़ाई जाएगी ताकि किसी प्रकार की भीड़-भाड़ से श्रद्धालुओं को बचाया जा सके।
. मंदिर परिसर को दिन में चार बार sanitise किया जाएगा।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

पिछला लेखचुराह ! पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी की कालोनी चौक पर स्थापित होगी भव्य प्रतिमा – हंसराज ।
अगला लेखशिमला ! प्रदेश की राजधानी शिमला में भूकंप के झटके महसूस किए गए।