शिमला ! स्कूलों में पार्ट टाइम मल्टी टास्क वर्कर पॉलिसी 2020 जारी !

1
42492
सांकेतिक चित्र
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

शिमला ! प्रदेश सरकार ने स्कूलों में पार्ट टाइम मल्टी टास्क वर्कर पॉलिसी 2020 जारी कर दी है। इसके तहत वर्कर की नियुक्ति के लिए संबंधित एसडीएम की अध्यक्षता में कमेटी बनाई जाएगी। एसडीएम कमेटी का अध्यक्ष होगा, ब्लॉक एलिमैंट्री एजुकेशन ऑफिसर स्कूल का प्रिंसीपल या हैड मास्टर कमेटी में सदस्य सचिव होगा जबकि एसएमसी का प्रधान कमेटी में सदस्य होगा। मल्टी टास्क वर्कर के लिए संबंधित ग्राम पंचायत के स्थायी बेरोजगार युवक को प्राथमिकता दी जाएगी। जिन स्कूलों में वाटर कैरियर नहीं होंगे, उन स्कूलों में मल्टीटास्क वर्कर का एक पद सृजित किया जाएगा। बेरोजगार युवा जिला उपनिदेशक शिक्षा के कार्यालय में सादे पेपर में इस पद के लिए आवेदन कर सकते हैं।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

स्कूलों में मल्टी टास्क वर्कर के पद के लिए 5वीं पास भी आवेदन कर सकता है। पॉलिसी के तहत सरकार ने इस पद के लिए शैक्षणिक योग्यता 5वीं और 8वीं पास तय की है। इसके अलावा पॉलिसी के तहत उम्मीदवार के साक्षात्कार के दौरान दिए जाने वाले अंक भी तय किए गए हैं। स्कूल से 1.5 किलोमीटर की दूरी पर रहने वाले को 10 अंक, स्कूल से 2 किलोमीटर दूर रहने वाले को 8 अंक, 3 किलोमीटर की दूरी पर 6 अंक, 4 किलोमीटर की दूरी पर 4 अंक, 5 किलोमीटर की दूरी पर 2 अंक दिए जाएंगे।

शैक्षणिक योग्यता के 8 अंक रखे गए हैं। इसके अलावा विधवा को 3 अंक, जिस परिवार ने स्कूल के लिए भूमि दान की है, यदि उसके परिवार से कोई उम्मीदवार है तो उसे 3 अंक दिए जाएंगे। इसके साथ ही एससी, एसटी, ओबीसी व बीपीएल परिवारों से संबंध रखने वाले उम्मीदवारों को 3 अंक बेरोजगार परिवार से संबंध रखने वाले को 3 माह 3 अंक दिए जाएंगे। यह साक्षात्कार 30 अंक का तय किया गया है। बता दें कि यह नियुक्ति अनुबंध आधार पर की जाएगी। इस दौरान सरकार 7852 मल्टी टास्क वर्कर्ज को नियुक्ति देगी।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखबिलासपुर 29 जुलाई 2020 के फल और सब्जियों के दाम !
अगला लेखशिमला । शोघी -मैहली बाईपास में सेब से भरा ट्राला पलटा, बाईपास बन्द।

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें