करसोग ! हरिद्वार की तर्ज पर विकसित हो करसोग मोक्षधाम, मुख्यमंत्री से की गई है सौंदर्यीकरण की मांग !

0
1650
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

करसोग नगर के मोक्ष धाम को व्यवस्थित एवं सुंदर बनाने के लिए सालों से मांग की जा रही थी।  करसोग से लालग रोड के नजदीक स्थित शमशान घाट के शौदर्यीकरण की मांग जल्द पूरी होगी यह जानकारी नगर पंचायत के पार्षद बंसीलाल कौंडल द्वारा दी गई । करसोग में मोक्षधाम की कमेटी का गठन भी हो चुका है जो कि निरंतर इस मोक्ष धाम के लिए कार्य कर रही है । श्मशान घाट के सौंदर्यकरण के लिए लगभग पोने तीन करोड़ रुपए स्वीकृत करने की मांग करसोग नगर की जनता की ओर से मुख्यमंत्री से मांग की है। जल्द ही भूमि पूजन के बाद नगर के शमशान घाट का सौंदर्यकरण किया जाएगा। जिसमें बॉल बाउंड्री, श्रद्धांजलि हॉल, इमला विमला खड्डो पर निर्माण, पार्क निर्माण, पुलिया निर्माण, अन्य लकड़ी रखने के लिए एक स्टोर रूम का भी निर्माण किया जाएगा। इन सभी निर्माणों से करसोग नगर के श्मशान घाट को अतिक्रमण से भी मुक्ति मिलेगी और करसोग का मुक्ति धाम आकर्षण का केंद्र बनेगा। इनका कहना है कि इस मोक्ष धाम में भगवान शिव शंकर की 60 फीट की मूर्ति आकर्षण का केंद्र बनेगी तथा हरिद्वार के तर्ज पर मोक्ष धाम करसोग मैं सभी कार्य होंगे

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

शमशान की भूमि को सुंदर, सुव्यवस्थित करने और अतिक्रमणकारियों से मुक्त कर भविष्य में अतिक्रमण से बचाने के लिए शमशान घाट के चारों ओर से बाउंड्री वाल का निर्माण किया जाएगा। पशुओं के प्रवेश पर रोक लगाने के साथ पौधे रोपे जाएंगे। बारिश में पास के सरकारी डिपो से दाह संस्कार के लिए लकड़ी मिलती थी, अब इस श्मशान घाट में ही लकड़ी रखने का स्टोर रूम का निर्माण करसोग की स्थानीय मोक्षधाम कमेटी ने कर दिया है जिसका खर्चा सभी नगर वासियों से एकत्रित करके यह स्टोर बनाया है फिलहाल यह परेशानी दूर हो गई है।

बंसीलाल कोंडल का कहना है कि मोक्ष धाम के सौंदर्यीकरण में कोई कसर बाकी नहीं रखी जाएगी। चारों तरफ बिजली के रोशनीदार खम्भे, फलदार और फूलदार वृक्ष लगाए जाएंगे। साथ ही सुंदर पार्क का भी निर्माण किया जाएगा। वहीं श्रद्धांजलि हॉल के निर्माण से अंतिम यात्रा में आए हुए लोगों को धूप एवं बारिश से निजात मिलेगी। तथा अभी प्रजेंट में सभी करसोग वासियों की मदद से अपने खर्चों से तीन कमरों का एक सैड का निर्माण किया जा चुका है। जो मुक्ति धाम की सुंदरता को बढ़ाएगा।

शमशान घाट में लोग अंतिम संस्कार के समय ही जाते हैं। वहां पर लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता था। अब सौदर्यीकरण हो जाने पर नागरिकों को वहां भी सुकून और शांति का वातावरण प्राप्त होगा। शीघ्र ही शमशान घाट की बांउड्रीबाल के निर्माण से बेशकीमती भूमि को अतिक्रमणकारियों से बचाया जा सकेगा और सौंदर्यीकरण से नगर की खूबसूरती भी बढ़ेगी।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखचम्बा ! एसएफआई जिला कमेटी चंबा ने प्रदेश में कोरोना महामारी के बीच परीक्षाएं करवाने के विरोध में किया धरना प्रदर्शन।
अगला लेखचम्बा ! किशन कपूर ने किया बहुउद्देशीय सुविधा केंद्र का शिलान्यास।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें