चम्बा ! चुराह क्षेत्र के 418.5 हेक्टेयर क्षेत्रफल में किया जाएगा पौधारोपण- विधानसभा उपाध्यक्ष।

0
1323
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

चम्बा ! चुराह क्षेत्र में इस साल 418.5 हेक्टेयर क्षेत्रफल में पौधारोपण करके 419550 पौधे लगाने का लक्ष्य तय किया गया है जिसमें 115300 पौधे सामुदायिक सहभागिता के माध्यम से रोपे जाएंगे। विधानसभा उपाध्यक्ष हंसराज ने यह बात आज चुराह विधानसभा क्षेत्र के तहत बैरागढ़ में 71वें वन महोत्सव का शुभारंभ करने के बाद कही।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

उन्होंने यह भी बताया कि विद्यार्थी वन मित्र योजना के तहत भी चुराह के चार स्कूलों को चिन्हित किया गया है। इन स्कूलों में 4 हेक्टेयर क्षेत्र पर 4400 पौधे लगाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि एक बूटा बेटी के नाम अभियान में भी 150 नवजात कन्याओं के नाम पर पांच- पांच पौधे रोपे गए। विधानसभा उपाध्यक्ष ने कहा कि वनों का ना केवल हमारे पर्यावरण और पारिस्थितिकी संतुलन के साथ अभिन्न रिश्ता है बल्कि मानव जीवन में भी इनकी अमूल्य भूमिका है।

उन्होंने कहा कि बैरागढ़ में आयोजित वन महोत्सव के दौरान देवदार, अखरोट और बान के करीब 500 पौधे रोपे गए। उन्होंने लोगों का आह्वान करते हुए कहा कि पौधारोपण अभियान में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लें और बाद में पौधों का संरक्षण भी करें। विधानसभा उपाध्यक्ष ने कहा कि प्रत्येक बूथ पालक भी पांच- पांच पौधों को रोपने का प्रण लें और इसे पूरा करना भी सुनिश्चित बनाएं।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी शिमला से वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से बैरागढ़ में आयोजित वन महोत्सव की जानकारी ली। विधानसभा उपाध्यक्ष ने इससे पूर्व 2 करोड़ 35 लाख रुपए की लागत से नाबार्ड के तहत निर्मित होने वाली रानीकोट-सत्यास- बैरागढ़ पेयजल योजना के अलावा टेपा पंचायत की पेयजल योजनाओं के पुनर्निर्माण की आधारशिला भी रखी।

उन्होंने बताया कि टेपा पंचायत की पेयजल योजनाओं के पुनर्निर्माण पर 1 करोड़ 31लाख रुपए की लागत आएगी जिसे पिछड़ा क्षेत्र उप योजना के तहत पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान में चुराह विधानसभा क्षेत्र में 49 पेयजल योजनाएं प्रगति पर हैं जिनके निर्माण पर 25 करोड़ 40 लाख की राशि खर्च होगी।

पेयजल योजनाओं की नई कार्य योजना का जिक्र करते हुए उन्होंने बताया कि चुराह विधानसभा क्षेत्र के लिए 40 करोड़ 20 लाख की लागत वाली 29 अन्य योजनाएं भी प्रस्तावित हैं। ये योजनाएं जल जीवन मिशन, नाबार्ड, पिछड़ा क्षेत्र उप योजना और अनुसूचित जाति उप योजना के तहत बनेंगी।

इस मौके पर तीसा पंचायत समिति उपाध्यक्ष बोध राज, जिला भाजपा महामंत्री वीरेंद्र ठाकुर, युवा मोर्चा अध्यक्ष अमन राठौर के अलावा वन मंडलाधिकारी एके आनंद, सहायक वन अरण्यपाल सुशील गुलेरिया, अधिशासी अभियंता जल शक्ति हरि प्रकाश भारद्वाज, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण दीपक महाजन, खंड विकास अधिकारी महेंद्र कुमार, तहसीलदार प्रकाश सिंह ठाकुर भी मौजूद रहे।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखचम्बा ! प्रदेश कांग्रेस सचिव रमेश रॉव ने किया बसों में 25 प्रतिशत किराया वृद्धि का विरोध।
अगला लेखशिमला ! बस किराये में बढ़ोतरी के विरोध में डीसी ऑफिस के बाहर जोरदार प्रदर्शन – सीटू !

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें