चंबा-खजियार -डलहौजी में खोले जाएंगे विक्रय केंद्र।

0
810
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

चंबा ! उपायुक्त विवेक भाटिया ने कहा कि जिला चंबा की समृद्ध कला एवं संस्कृति के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए चंबयाल प्रोजेक्ट के तहत एक विस्तृत कार्ययोजना को तैयार किया गया है । वे आज बचत भवन चंबा में हिमाचल प्रदेश विज्ञान प्रौद्योगिकी एवं पर्यावरण परिषद के सौजन्य से स्थानीय उत्पादों के भौगोलिक संकेत पर आधारित एक दिवसीय कार्यशाला में बतौर मुख्यातिथि शिरकत करते हुए बोल रहे थे ।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

उन्होंने कहा कि जिले में चंबा रुमाल, मिनिएचर पेंटिंग, मूर्तिकला, काष्ठ कला और प्रसिद्ध उत्पाद चंबा चप्पल , चंबा चुख इत्यादि से संबंधित व्यवसाय में कई लोग अपना जीविकोपार्जन अर्जित करते हैं । चंबयाल नामक प्रोजेक्ट इन शिल्पकारों और कलाकारों को बेहतर व्यवस्था उपलब्ध करवाने के साथ इनकी आर्थिकी को भी संबल प्रदान करेगा। गौरतलब है कि उपायुक्त चंबा विवेक भाटिया की पहल पर चंबयाल प्रोजेक्ट को भारत सरकार द्वारा मंजूरी प्रदान की गई है । इसके कार्यान्वयन के लिए एक करोड़ बीस लाख रुपयों का बजट प्रावधान किया गया है । प्रथम किस्त के रूप में नव्बे लाख ( 90 लाख ) रुपयों की राशि को स्वीकृति भी प्रदान कर दी गई है ।
जिले के उच्च गुणवत्ता युक्त स्थानीय उत्पादों व उत्कृष्ट कलाकृतियों की पर्यटकों-कला प्रेमियों तक आसान पहुंच बनाने के लिए उपायुक्त ने उप निदेशक एवं परियोजना अधिकारी ग्रामीण विकास अभिकरण सौरभ जस्सल को श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर परिसर समूह में बिक्री केंद्र खोलने की संभावनाओं पर कार्य करने को कहा । उन्होंने यह भी कहा कि चंबा ,खजियार और डलहौजी में प्रस्तावित विक्रय केंद्रों में किसानों- बागवानों,शिल्पकारों और कलाकारों के उत्कृष्ट उत्पादों को स्थान उपलब्ध करवाया जाएगा जिससे लोगों की आर्थिकी सुदृढ़ होने के साथ-साथ पर्यटकों को भी स्थानीय उत्पाद आसानी से उपलब्ध हो सकेंगे ।

उपायुक्त ने कहा कि भौगोलिक संकेत के रजिस्ट्रार द्वारा चंबा रुमाल को भौगोलिक संकेत के रूप में पंजीकृत किया गया है । जिसके परिणाम स्वरूप इस व्यवसाय में लगे लोगों को निस्संदेह इस पंजीकरण से लाभ मिलेगा । इस दौरान उन्होंने चंबा रुमाल के शिल्पकारों को ऑथोराइज्ड यूजर प्रमाण पत्र भी प्रदान किए । इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका ने स्थानीय उत्पादों, कलाकृतियों के भौगोलिक संकेत के तहत ब्रांड वैल्यू की अहम भूमिका के बारे में अपने विचार सांझा किए ।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखकोरोना वायरस पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित।
अगला लेखभरमौर ! कानूनी अधिकारों के बारे में विस्तार पूर्वक की गई चर्चा !

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें