शिमला ! राज्य सरकार ने की गणतंत्र दिवस पर 359 बन्दियों को विशेष मुआफी की घोषणा ! 

0
57
pornhup.fun hetero teenager assfucked during hazing.
greedyforporn.com
xvideos davia had hot sex.
Spokesman
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

शिमला ,24 जनवरी ! राज्य सरकार ने 26 जनवरी, 2023 को गणतंत्र दिवस के अवसर पर प्रदेश के विभिन्न कारागारों में सजा काट रहे बन्दियों को उनके अच्छे आचरण एवं व्यवहार के दृष्टिगत विशेष मुआफी की घोषणा की है, जिसके तहत विशेष मुआफी 7 दिन से लेकर 45 दिन तक दी गई है।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

 प्रदेश सरकार के एक प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि सरकार द्वारा दी गई मुआफी से राज्य के विभिन्न कारागारों के 359 बन्दी लाभान्वित होंगे, जिसमें 3 बन्दी सजा पूरी होने के उपरांत 26 जनवरी को तत्काल रिहा हो जाएंगे। शिमला के कंडा कारावास के 97 व कैथू जेल के 15, नाहन के 108, धर्मशाला के 65, चंबा के 17, बिलासपुर के 18, मंडी के 10, सोलन के 04, ऊना के 11, हमीरपुर के 05, कल्पा के 03, नालागढ़ कारावास के 06 बंदियों को रिहा किया जा रहा है।

   इसके अतिरिक्त भारत सरकार द्वारा आजादी की 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में आजादी का अमृत महोत्सव में कार्यक्रमों की श्रंृखला में बंदियों की कुछ श्रेणियों को विशेष माफी देने और उन्हें तीन चरणों 15 अगस्त 2022, 26 जनवरी 2023 और 15 अगस्त, 2023 को रिहा करने का प्रस्ताव है। सजा माफी की योजना का उद्देश्य बंदियों में कारावास के दौरान अनुशासन और सदाचरण सुनिश्चित करना है व प्रोत्साहन के रूप में जल्दी रिहाई की सम्भावना का अवसर प्रदान करना है।

इस संदर्भ में भारत सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों में जिन पात्र बंदियों ने अपनी 66 प्रतिशत सजा पूर्ण कर ली है, उसमें से 4 बंदियों को रिहा किया जा रहा है। एक बंदी जिसने अपनी कारावास की सजा पूर्ण कर ली है, लेकिन वह अपनी जुर्माना राशि देने में असमर्थ है, उस बंदी को भी रिहा किया जा रहा है। इस माफी से प्रदेश की विभिन्न कारागारों से कुल 5 बंदियों को रिहा किया जा रहा है।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -

tokyomotion
xnxx sexy busty russian teacher dildoing pussy and ass.
https://http://taxi69.pro/

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

पिछला लेखशिमला ! राज्यपाल ने पूर्ण राज्यत्व दिवस और गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दीं ! 
अगला लेखशिमला ! सीमेंट विवाद नही सुलझा तो जल्द कानूनी रास्ता अपनाएगी प्रदेश सरकार – उद्योग मंत्री !