मंडी ! कुलदीप राठौर ने नेरचौक मेडिकल कॉलेज को स्वास्थ्य उपकरण भेंट किये !

0
762
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

मंडी ! कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने मंडी जिला के नेरचौक मेडिकल कॉलेज को स्वास्थ्य उपकरण भेंट किये। इसमें उन्होंने बेड 5,व्हीलचेयर 6,बीपी ओपरेन्ट्स 25,फेस शीट्स 400,नसल फ्लो केन्वला 25,कैथल माउस 25,क्लोज सर्कट 25 व पिलर हीटर 5 अस्पताल प्रबंधन को भेंट किये जिससे रोगियों को इनकी सुविधा उपलब्ध हो सकें।इस दौरान उनके साथ कांग्रेस महासचिव चेतराम ठाकुर,कांग्रेस सचिव हरिकृष्ण हिमराल,मंडी जिला कॉग्रेस अध्यक्ष प्रकाश चौधरी व कई अन्य पार्टी पदाधिकारी मौजूद थे।राठौर ने कहा कि कांग्रेस कोविड काल मे अपने सामाजिक दायित्व का निर्वाहन कर रही है।उन्होंने कहा कि उन्होंने इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज शिमला में भी कोविड से निपटने के लिए अस्पताल प्रबंधन को आवश्यक उपकरण भेंट किये थे।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने केंद्र की एनडीए सरकार पर आरोप लगाया है कि वह देश के किसानों को उकसाने का प्रयास कर रही है।उन्होंने कहा है कि आंदोलनरत किसानों के साथ तुरंत बगैर किसी शर्त के बातचीत की जानी चाहिए।उन्होंने कहा है कि किसानों के इस आंदोलन से देश मे अन्न पर भारी सकंट पैदा हो सकता है।उन्होंने कहा है कि किसान जो मानव सृष्टि का एकमात्र अनदाता है उनकी भावनाओं का सम्मान करते हुए उनकी मांगों को माना जाना चाहिए।राठौर ने कहा है कि देश के किसानों के साथ किसी भी प्रकार का अन्याय सहन नही किया जा सकता।उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि नए कृषि कानूनों के विरोध में किसानों के प्रति भाजपा का रवैया जायज नही है।उन्होंने कहा है कि सरकार ने इन नए कानूनों के तहत बाजार की व्यवस्था को अस्त व्यस्त कर दिया है और किसानों को एकबार फिर से बड़े पूंजीपतियों के हवाले कर दिया है।

उन्होंने कहा है कि देश एक तरफ कोविड 19 से जूझ रहा है तो दूसरी तरफ किसानों पर काले कानून थोप कर केंद्र सरकार ने देश को एक बड़े संकट में धकेल दिया है।राठौर ने प्रदेश में बढ़ते कोरोना मामलों पर अपनी चिंता व्यक्त करते हुए सरकार पर आरोप लगाया कि उन्होंने शुरू से ही इस महामारी को हल्के से लिया।देशव्यापी लॉक डाउन के चलते प्रदेश में कोरोना का एक भी मामला न होने से मुख्यमंत्री अपनी पीठ थपथपाते रहें।उन्होंने कहा की कांग्रेस ने उस दौरान प्रदेश की सीमाओं पर कोविड जांच प्रभाबी ढंग से करवाने की मांग सरकार से की थी।उन्होंने कहा कि उस समय मुख्यमंत्री ने प्रदेश को कोविड डेस्टिनेशन बनाने की बात तक कही थी।उन्होंने कहा कि इसी का नतीजा है की आज प्रदेश देश के उन राज्यों में शामिल हो गया है जहां इसके मामलें और मृत्यों दर लगातार बढ़ती जा रही है जो बहुत ही चिंता की बात है।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

पिछला लेखमुख्यमंत्री ने श्री गुरू नानक देव जी के प्रकाश पर्व पर गुरूद्वारा साहिब बस स्टैंड में नवाया शीश !
अगला लेखचम्बा ! कला सृजन पाठशाला ने किया वर्चुअल-मीट का आयोजन !