बद्दी ! सनसिटी कालोनी वासियों ने आधारभूत सुविधाएं नहीं मिलने पर रेरा को भेजी शिकायत !

0
753
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

बद्दी की सबसे सुब्यवस्थित सनसिटी कालोनी के निवासियों ने बिल्डर पर आधारभूत सुविधाएँ न उपलब्ध करवाने पर रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी (रेरा) हिमाचल प्रदेश में शिकायत भेजी है। कालोनी वासियों का कहना है कि बिल्डर उन्हें स्वीकृत योजना के अनुसार आधारभूत सुविधाएँ उपलब्ध करवाने में असफल रहा है। कालोनी वासियों का कहना है कि दस वर्ष पहले बिल्डर द्वारा उन्हें बददी की सबसे बढिया, सुन्दर व सुब्यवस्थित कालोनी बताकर उंचे दामों पर फलैट्स बेचे गए। जिसमें बिल्डर द्वारा हर फलैट के लिए उचित कार पार्किंग, क्लब हाउस, कम्यूनिटी हॉल तथा स्विमिंग पूल, बच्चों को खेलने का मैदान देने के नाम पर लाखों रूपये वसूल किये गये। परन्तु बहुत की दुख की बात है कि एक दशक बीत जाने के बाद भी आज तक खरीददारों को कोई सुविधा उपलब्ध नहीं हो पाई है।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

कालोनी वासियों ने आरोप लगाते हुए कहा कि बिल्डर द्वारा सभी फलैटस बेचे जा चुके हैं किंतु फिर भी पता नहीं क्यूँ सनसिटी वेलफेयर सोसाइटी में बिल्डर के आदमी ही पदाधिकारी बने हुए हैं। जबकि यह लोग यहां रहते ही नहीं हैं और यहां के निवासियों को पदाधिकारी नहीं बनाया जाता है तथा न ही सोसाइटी को कार्यालय के लिए स्थान सुनिश्चित किया गया है। कार्यालय सचिव अरूण गौतम का कहना है कि बार बार हेड आँफिस में मेल द्वारा पत्राचार किया जाता है परन्तु किसी भी बात का जवाब हमें नहीं आता है। वहीं इस विषय पर शकुन इन्फ्रास्ट्रक्चर के एमडी अर्जुन बहल का कहना है कि कालोनी वासियों में कुछ बातों को लेकर संशय है जिसको लेकर 6 दिसम्बर को बैठक रखी गई है तथा सभी समस्याओं का समाधान निकाल लिया जाएगा। इस अवसर पर संजीव शर्मा, प्रवीण राणा, मोहित गुप्ता, सुनील गौड, सतीश कौशल, इन्द्र वर्मा, संजय अग्रवाल, लक्ष्मी नारायण, अजय ग्रोवर, विकास पंडिता, लता नैन, मनोज जैन आदि अन्य लोग मौजूद रहे।

ग़ौरतलब है कि पिछले महीने ही रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी (रेरा) हिमाचल प्रदेश ने न्यू टाउन बद्दी में आवंटियों को आधारभूत सुविधाएँ उपलब्ध नहीं करवाने पर प्रोमोटर गुप्ता प्रॉपर्टी डवेल्पर्ज प्राइवेट लिमिटेड को 25 लाख रुपये का जुर्माना किया था। प्राधिकरण ने संदीप कुमार और अदित कंसल की ओर से रेरा में दायर शिकायत की सुनवाई के बाद प्रोमोटर को इन दोनों आवंटियों द्वारा जमा राशि रिफंड करने का निर्देश भी दिया था।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

पिछला लेखबददी ! टेक्सटाइल इंडस्ट्रीज के अनियंत्रित प्रदूषण के खिलाफ जाएंगे एनजीटी दिल्ली – बबलू पंडित !
अगला लेखनालागढ़ ! शिव मंदिर बगलैहड़ के परिसर में इंटरलाॅक टाइल्स लगाने का कार्य शुरू, विधायक ने किया उद्घाटन !