बिलासपुर ! प्रथम चरण में 600 हैक्टेयर भूमि पर फलदार पौधे रोपित किए जाएंगे।

0
1095
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

बिलासपुर ! खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री राजिन्द्र गर्ग ने कहा कि जिला बिलासपुर में एचपी शिवा प्रोजेक्ट के तहत अगले वर्ष प्रथम चरण में 600 हैक्टेयर भूमि पर फलदार पौधे रोपित किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने किसानों व बागवानो की आर्थिकी सुदृढ़ करने को एचपी शिवा प्रोजेक्ट शुरू किया है ताकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के संकल्प को पूरा किया जा सके। राजिन्द्र गर्ग आज लोक निर्माण विभाग विश्राम गृृह घुमारवीं में जल शक्ति तथा बागवानी विभाग के अधिकारियों की संयुक्त बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि एचपी शिवा प्रोजेक्ट के तहत जिला में पायलट आधार पर वर्तमान में चार कलस्टर में पौधारोपण किया गया है जिसमें बिलासपुर जिला के मझेड़, धुलैत, लजंता व तलवाडा शामिल है। उन्होंने बताया कि इन कलस्टर में लगभग 37 हैक्टेयर भूमि पर कुल 31 हजार 450 फलदार पौधों का रोपण किया गया है जिसमें मुख्यतः लीची व मौसमी के पौधे शामिल है। इसके अलावा जिला में शिवा प्रोजेक्ट के तहत चार तरह के फलदार पौधो के रोपण को चिन्हित किया गया है जिनमें मौसमी व लीची के अलावा अमरूद और अनार भी शामिल हैं।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

उन्होंने सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को बिलासपुर जिला की जलवायु के अनुकूल ऐसे फलदार पौधे रोपने के निर्देश दिए जिनसे किसानों को अधिक से अधिक मुनाफा हो सके। साथ ही अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे फील्ड में जाकर किसानों से शिवा प्रोजेक्ट को लेकर चर्चा करें ताकि अधिक से अधिक कलस्टर विकसित हो सकें। साथ ही अधिकारियों से ऐसे स्थानों को कलस्टर के तौर पर विकसित करने को कहा जहां पर सिंचाई हेतू पानी की उपलब्धता सुनिश्चित हो। इसके अतिरिक्त कम पानी की उपलब्धता वाले क्षेत्रों में छोटे कलस्टर विकसित करने का सुझाव भी दिया। साथ ही बताया कि जिला में विकास खण्ड झंडूता, घुमारवीं, श्री नैना देवी जी व सदर में नए कलस्टर बनाने का कार्य प्रगति पर है। उन्होंने बताया कि इस प्रोजेक्ट के माध्यम से फ्रूट प्रौसेसिंग प्लांट स्थापित करने की भी योजना है ताकि किसानों को फलों की मार्केटिंग में दिक्कत न आए।

राजिन्द्र गर्ग ने जिला के ज्यादा से ज्यादा किसानों से एचपी शिवा प्रोजेक्ट के तहत जुड़ने का आहवान किया ताकि उनकी आर्थिकी में व्यापक सुधार लाया जा सके। उन्होंने कहा कि बागवानी के माध्यम से प्रदेश सरकार किसानों के उत्थान व कल्याण के लिए लगातार प्रयासरत है तथा किसानों व बागवानों से इन योजनाओं का लाभ उठाने का आहवान किया है। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों को जिला में शिवा प्रोजेक्ट के तहत नए कलस्टर विकसित करने के निर्देश भी दिए।
इस अवसर पर उपनिदेशक बागवानी डाॅ. विनोद शर्मा, विशेषवाद विशेषज्ञ डाॅ. कुलदीप शारदा, बागवानी विकास अधिकारी डाॅ. संदीप शर्मा, अधिशाषी अभियंता जल शक्ति विवेक कटोच, सतीश शर्मा, एसडीओयशपाल शर्मा, रविन्द्र रणौत, नरेश रणौत सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखचम्बा ! सुंडला, उदयपुर, कियाणी में अवैध खनन जोरों पर ।
अगला लेखनाहन ! यूथ क्लब में युवाओं की सदस्यता को बढ़ाने के बारे में चर्चा !

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें