चम्बा ! कई गांव आज भी सड़क सुविधा से वंचित।

0
3891
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

चम्बा ! अपने देश को आज़ाद हुए आज कई वर्ष बीत चुके है लेकिन आज भी जिले के साथ लगते कई ग्रामीण क्षेत्र ऐसे है जोकि सड़क सुविधा से वंचित है। ऐसा ही एक मामला जनजातीय क्षेत्र लेच में देखने को मिला। पंचायत लेच,के अंतर्गत आने वाले कई गांव आज भी सड़क सुविधा से वंचित है। वंहा के स्थानीय लोगों का आरोप है कि इन पंचायतो को जोड़ने वाली सड़क का निर्माण कार्य कुछ वर्ष पहले शुरू तो हुआ था पर आज कई साल बीत चुके है लेकिन उस काम को शुरू नही किया गया। परेशान ग्रामीण लोगों का कहना है कि करीब चार किलोमीटर इस सड़क के न होने से गर्भवती महिलाओं के साथ बिमार लोगों को पीठ पर उठाकर ईलाज के लिए लाना पड़ता है जिससे हर किसी को परेशानी झेलनी पड़ती है। रावी नदी के एक तरफ जा रही सड़क जहाँ जनजातीय क्षेत्र भरमौर को जाती है तो वंही रावी की दूसरी तरफ टूटी फूटी सड़क लेच पंचायत को जोड़ती है पर अब इस सड़क के हालात ऐसे है कि इस पर इन्सान तो क्या जानवर तक ठीक से नहीं चल पाता है। यंहा के स्थानीय पूर्व प्रधान व वर्तमान बीडीसी मेंबर ने बताया कि शुरू में इस सड़क का काम जोरशोर से चला हुआ था पर उसके बाद किस कारणवश इसको बंद कर दिया है।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

इन्होने बताया कि पहले हम चम्बा विधानसभा क्षेत्र के साथ थे अब हमे जनजातिये क्षेत्र के साथ जोड़ दिया गया है और अब विकाश के नाम से शून्य ही दिखाई देता है। इन लोगों के प्रदेश मुख्यमंत्री से गुजारिस करते हुए कहा कि इस सड़क की तरफ थोड़ा ध्यान दिया जाये। उन्होंने बताया कि इस सड़क के न होने से कई पंचायत के लोगों को इसका खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि चार हज़ार की संख्या वाले इस ग्रामीण इलाके में अगर कोई गर्भवती महिला या फिर कोई अन्य बीमार होता है तो उसको चार किलोमीटर तक पीठ पर उठाकर मुख्यामार्ग तक लाना पड़ता है। यंहा के एक अन्य स्थानीय ग्रामीण ने बताया कि इस सड़क को लेकर हमने कई बार विभाग और सरकार को भी लिखा पर किसी ने कोई गौर नहीं की। इस ग्रामीण ने बताया कि इस सड़क की लम्बाई चार किलोमीटर से भी ज्यादा है और इसके बनने से लेच,पंचायत के इलावा कई और पंचायत के लोगों को इसका सीधा सीधा लाभ पहुंचेगा।

उन्होंने बताया कि कम से कम दो हजार की ग्रामीण जनता को इस सड़क के बनने से फायदा होगा। उन्होंने बताया कि अभी जब सड़क नहीं बनी है तो यंहा के ग्रामीण लोग जो बीमार होते है तो इस मज़बूरी के चलते अन्य गांव के लोग बीमार व्यक्ति को पीठ पर उठाकर सड़क तक लाते है। इन लोगों ने प्रदेश सरकार से गुहार लगाई है कि इस सड़क के कार्य को शीघ्र अति शीघ्र करवाया जाए ताकि वर्षो से सड़क की समस्या से जूझ रहे इन ग्रामीण को राहत मिल सके।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखचम्बा ! चम्बा में सामाजिक व्यवहार नियम की दिलाई शपथ।
अगला लेखचम्बा ! ढांक से गिरकर भेड़पालक की मौत।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें