चम्बा ! बेख़ौफ़ अवैध खनन कर रहे है रेत माफ़िया।

0
1896
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

चम्बा ! वर्षो से जिले में अवैध खनन कर रहे रेत माफ़िया लोग अपने कारोबार को धड़ल्ले से बेखौफ चला रहे है। यह लोग इन दिनों पानी कम होने पर रेत माफिया कारोबारी जी भरकर रेत को एकठा करके पानी बढ़ने पर ऊंचे दामों में बेच देते है। हालंकि इसको लेकर माइनिंग विभाग और पुलिस के लोग इस अवैध धंधे को रोकने को लगे रहते है पर पुलिस के साथ आँख मिचोली करते यह खननकारी बिना किसी रोक टोक के दिन रात अवैध खनन करने से बाज नहीं आते है। इस बात से परेशान है लोगों का कहना है कि यह अवैध रेत माफिया लोग दुसरो के घरो को खतरा पैदा करके रावी नदी के किनारे से रेते को इकट्ठा कर लेते है पर जैसे ही पानी बढ़ने से इसकी मांग बढ़ जाती ह तो इसी रेते को यह अवैध खननकारी 30,रूपये से लेकर 35 रुपयों तक लोगों को बेचते है।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

रावी नदी हो या फिर सियूल नदी इन नदियों पर दर्जनों के हिसाब से मंडरा रहे यह ट्रैक्टर दिन रात इन नदियों का सीना चीरते हुए अवैध खनन करने में मशरूक़ है। इन लोगों को न तो जिला प्रशासन की कोई चिंता है और न ही पुलिस का डर बस इन लोगों को चिंन्ता है तो इस बात की कि जैसे तैसे किसी भी तरह इन नदियों से बह रहे सोने को निकाले भले ही इस जोखिम भरे काम को करते उन लोगों की जान ही क्यों न चली जाये । इसको लेकर लोगों से जब पूछा गया तो उन लोगों ने बताया कि रावी नदी के चारो तरफ रेते का अवैध खनन धड़ले से चल रहा है। इन लोगों ने बताया कि यंहा छोटे मोटे घोड़े खच्चरों वाले तो इन रावी नदी के तट से रेता तो निकलते है ही वंही बड़ी मशीनों के माध्यम से भी रेता जो है निकाला जा रहा है जिसे छोटी व बड़ी गाड़ियों के माध्यम ढोया जा रहा है जिस पर प्रशासन की कोई नजर ही है। इन लोगो ने बताया कि अभी पानी कम होने पर यह लोग रेते को जमा कर लेते है और जैसे ही पानी इन नदियों में बढ़ जाता है तो यह लोग इसी रेते को महंगे दामों में बेच दिया करते है। यह लोग जिला प्रशासन से मांग कर रहे है कि इन अवैध खनन करने वालो पर प्रशासन शिकंजा कसे ताकि लोगों को थोड़ी बहुत राहत मिल सके।

अवैध खनन को लेकर परेशान वह लोग जिनके घर रावी नदी के तट के बिलकुल समीप है और यह अवैध खननकारी लोग उनकी बिल्डिंग के साथ दिन रात रेत को निकाले जा रहे है। इन लोगों का कहना है कि यह लोग हमारी बिल्डिंग के साथ रेते को निकालने का काम कर रहे है जिससे हमारी बिल्डिंग को नुकसान हो रहा है और यह बिल्डिंग कभी भी गीर सकती है। यह लोग जिला प्रशासन से मांग कर रहे है कि इन लोगों को अवैध खनन करने से रोका जाये क्योंकि जिस तरह से यह लोग घोड़े खच्चरों और एनसी से रेता भर-भर के ले जा रहे है उससे भले ही उन लोगों को फायदा हो रहा हो पर हमे इससे बेहद नुकसान झेलना पड रहा। इन लोगों ने जिला प्रशासन से इस अवैध कारोबारियों पर नकेल कसने की अपील की है।

जिले में अवैध खनन जोरो पर है इसका अंदाजा जिले में बह रही दोनों नदियों में बेशुमार ट्रैक्टर जोकि इन नदियों का सीना चीरते हुए धड़ल्ले से रेत निकलने का काम जारी किये हुए थे। इस बारे हमारी टीम जिले के खनन अधिकारी के कार्यालय जा पहुंची। उनसे जब इस बारे पूछा गया तो उन्होंने बताया कि जैसे ही हम लोगों को इस बारे पता चलता कि अवैध खनन हो रहा है तो हम लोग तुरंत उस जगह पहुंच जाते है पर कभी कभार रात के समय चोरी छिपे काम करते है तो इसके लिए हम लोग पुलिस विभाग इसकी रोकथाम के लिए गुजारिश भी करते है। उन्होंने बताया कि हमारे विभाग में स्टाफ की बहुत ज्यादा कमी है। पूछने पर जिला खनन बताया कि लोक डाउन से पहले इन लोगों ने उन रास्तों को फिर से खोल दिया है जोकि पहले प्रशासन द्वारा बंद कर दिए थे। परन्तु हमारा फिर से प्रयास रहेगा कि पूना फिर से उन रास्तों को बंद किया जाये ताकि अवैध कारोबारियों पर शिकंजा कसा जा सके।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेख!! राशिफल 07 अक्टूबर 2020 बुधवार !!
अगला लेखसुन्नी क्षेत्र में कार्य कर रहे रिवर राफ्टिंगऑपरेटरों के उपकरणों और दस्तावेजों की जांच की।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें