चम्बा ! विधायिका आशा कुमारी ने तीन अध्यादेश किसानों से संबंधित पास करने को लेकर खड़े किए सवाल ।

0
1812
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

चम्बा ! हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी की डलहौजी से वरिष्ठ नेता एवं विधायिका आशा कुमारी ने अपने निवास स्थान पर पत्रकार वार्ता के दौरान लोकसभा और राज्यसभा से तीन अध्यादेश किसानों से संबंधित पास करने को लेकर सवाल खड़े किए हैं, उन्होंने कहा है कि यह बिल किसानों के हित में नहीं है जिसके चलते किसानों को अपनी फसल कॉर्पोरेट के हाथों बेचनी पड़ेगी जिससे उन्हें मिनिमम सपोर्ट प्राइस नहीं मिलेगा इस पर आशा कुमारी ने कहा कि हमारी राष्ट्रीय अध्यक्षा सोनिया गांधी ने कहां है कि जहां-जहां जिस प्रदेश में हमारी सरकार है वहां के मुख्यमंत्री को कहा गया है कि वह इस बिल को लेकर राज्य अपनी शक्ति का प्रयोग करते हुए अलग से बिल बनाएं ताकि किसानों को परेशानी का सामना ना करना पड़े इसी के चलते उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुई सामूहिक गैंगरेप की घटना की निंदा करते हुए कहा कि घिनौना काम हुआ है और पूरा देश गुस्से में हैं ऐसे में वहां के डीएम को तुरंत हटा देना चाहिए इसके अलावा सरकार निष्पक्ष तरीके से काम करें ताकि पीड़ित परिवार को भी न्याय मिल सके जाहिर सी बात है कि कृषि बिल लोकसभा और राज्यसभा से पास होने के बाद लागू हो गया है लेकिन अब इसमें राजनीति भी होने लगी है।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

वहीं दूसरी ओर कांग्रेस विधायक आशा कुमारी का कहना है कि किसानों के हित में जो बिल लोकसभा और राज्यसभा में पास हुआ है वह किसानों के विरुद है इसका कांग्रेस पार्टी पुरजोर विरोध करती रहेगी और हमारी राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कांग्रेस पार्टी के सभी मुख्यमंत्री को कहा है कि वह अपने राज्य में अलग-अलग बिल पारित करें ताकि किसानों को परेशानी ना हो सके, हालांकि हाथरस में हुई घटना को लेकर भी आशा कुमारी ने खेद जताते हुए कहा इस तरह की घटनाएं नहीं होनी चाहिए और उस परिवार को जो है इंसाफ मिलना चाहिए यही हम मांग करते हैं और पूरा देश मांग कर रहा है।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखचम्बा ! कोरोना से 61 वर्षीय व्यक्ति ने तोड़ा दम,वहीं 12और कोरोना संक्रमित मामले आए सामने।
अगला लेखशिमला। प्रदेश के मुख्यमंत्री तीन दिन के लिए होम आइसोलेट !

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें