चम्बा ! बिना पानी के चम्बी गांव के लोग को पेश आ रही परेशानियां।

0
1026
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

चम्बा ! चम्बा मुख्यालय के लिए जहां से पेयजल सोर्स बना हुआ है वहां के आसपास के गांव के लोगों को पानी की काफी दिक्कत झेलनी पड़ रही है। दरअसल चंबा की तरफ आने वाली पेयजल के लिए जो पाइप डाली गई है वह रास्ते में कई बार भूस्खलन की वजह से टूट जाती है और वहां पर जब भूस्खलन होता है तो गांव के लोगों के लिए जो पेयजल की सप्लाई और साथ ही सिंचाई की जो नहर है वह भी टूट जाती है जिससे लोगों को जहां पीने के पानी की समस्या तो बन जाती है वहीं उन्हें खेती-बाड़ी और जानवरों के पीने के लिए पानी की भी समस्या भी बढ़ जाती है।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

चम्बा जिला के चम्बी गांव की बात करें तो एक डेढ़ महीना पहले जब यहां भूस्खलन हुआ था उसकी वजह से यहां उनके गांव में आने वाली नहर और पेयजल की पाइप पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो चुकी है जिसकी वजह से गांव में पानी की समस्या बनी हुई है। चम्बी गांव के लिए हमेशा ही भूस्खलन की वजह से बार-बार पानी की समस्या बन जाती है लोग कई बार विभाग से इस बाबत गुहार लगा चुके हैं लेकिन विभाग उनकी हमेशा ही अनदेखी कर रहा है।

यहां के स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि उनके चम्बी गांव में जहां पीने के लिए पानी की समस्या बनी हुई है वहीं सिंचाई के लिए भी उनकी काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। उन्होंने कहा कि अभी फसलें बिजी हैं और पानी ना होने की वजह से वे सूख रही है। सिंचाई की नहर भूस्खलन से टूट चुकी है। पीने का पानी कभी कबार आ जाता है और इसके लिए विभाग से वह कई बार शिकायत भी की जा चुकी हैं। जब विभाग से शिकायत की जाती है तो कुछ देर के लिए पानी तो छोड़ दिया जाया हे लेकिन बाद में समस्या जस की तस बन जाती है। उन्होंने विभाग से आग्रह किया है कि उनके गांव के लिए सिंचाई की नहर और पीने के पानी की सप्लाई को सुचारू किया जाए ताकि उन्हें किस तरह की दिक्कतों का सामना ना करना पड़े।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखभारत की प्राचीन शिक्षा व्यवस्था की अवधारणा और वर्तमान शिक्षा का स्वरूप : भाग 2 – देवेंद्र धर ! 
अगला लेखशिमला ! ढली स्थित किसान भवन सरकार की उपेक्षा के चलते कार्यशील नही हो सका -हिमराल !

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें