चम्बा/साहो ! देर रात सामने आया वन विभाग द्वारा छापेमारी के दौरान गोली चलने का मामला।

0
2496
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

चम्बा ! चम्बा मुख्यालय के साहो क्षेत्र के सालवीं गांव में देर रात वन विभाग द्वारा छापेमारी के दौरान गोली चलने का मामला सामने आया है। इस दौरान एक व्यक्ति बुरी तरह से घायल हुआ है। जिसको इलाज के लिए पंडित जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में भरती करवा दिया गया है। घायल व्यक्ति ने इल्जाम लगाया है कि वन विभाग ने जबरन उसके घर में घुसकर उसके साथ मार-पीट की और साथ ही उस पर गोली भी चलाई लेकिन उसकी किस्मत अच्छी थी कि उस गोली से वह बाल-बाल बचा। उस पीड़ित ने इल्जाम लगाया है कि वन विभाग के अधिकारियों ने उसे लाठी से भी पीटा है। वहीं दूसरी तरफ वन विभाग के अधिकारियों से जब फोन पर बात हुई तो उन्होंने कहा कि गश्त के दौरान उन्हें सुचना मिली की इस व्यक्ति के पास देवदार की लकड़ी के स्लीपर हैं शक के आधार पर उसके घर में जब छापेमारी की गई उस दौरान उसके घर वालो ने वन विभाग के कर्मचारियों पर हमला कर दिया इसी के चलते उन्होंने अपने बचाव में यह दो गोली फायर कर दी थी। वहीं इस मामले में वन विभाग के अधिकारी को भी चोटें आई हैं और वन विभाग के अधिकारी को भी चम्बा मेडिकल कॉलेज से पी जी आई चण्डीगढ के लिए रेफर कर दिया गया है। हालांकि कैमरे के आगे अभी तक वन विभाग के अधिकारियों ने इस बारे में कुछ नहीं कहा है लेकिन फोन पर यह जानकारी देते हुए कहा कि जिस तरह से पहले वन विभाग के अधिकारियों के साथ मारपीट की घटनाएं हुई है उन को देखते हुए सरकार द्वारा उन्हें लाइसेंस दिए गए हैं अपने बचाव के लिए इसी के चलते उन्होंने अपने बचाव के लिए गोली चलाई।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

वही इस मामले में घायल व्यक्ति ने इल्जाम लगाते हुए कहा कि वन विभाग के अधिकारियों ने उसके घर में घुसकर उसे मारा पीटा और उसके ऊपर गोली चलाई। उन्होंने कहा कि बेबुनियाद इल्जाम उस पर लगाए जा रहे हैं कि उसके पास देवदार लकड़ी के स्लीपर है ।उन्होंने सरकार से आग्रह किया कि इस मामले पर अगर उन्होंने गलत किया तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जा जाए।

वहीं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने बताया कि देर रात एक सूचना मिली थी कि साहो क्षेत्र के सालवी गांव में गोली चली है। जब वह तुरंत मौके पर पहुंचे तो वहां पर एक पिस्टल और दो खाली कारतूस बरामद किए गए हैं साथ ही वहां पर एक लाठी भी बरामद की है। उन्होंने कहा कि दोनों पक्ष अपना अपना बयान दे रहे हैं लेकिन अभी जांच की जा रही है कि आखिर यह मामला क्या है। उन्होंने कहा कि अभी यह नहीं बताया जा सकता है कि इस व्यक्ति के शरीर में गोली लगी है या नहीं वह मेडिकल जांच के बाद ही पता चलेगा कि आखिर यह किस तरह से घायल हुआ है। उन्होंने कहा घायल व्यक्ति की मेडिकल जांच रिपोर्ट के बाद ही अगली कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखबिलासपुर । पुलिस थाना बरमाणा में नाबालिग लड़की के साथ बलात्कार करने का मामला दर्ज !
अगला लेखरामपुर/झाकड़ी ! ITBP जवान ने खुद को दो गोलियां मार कर जान देने की कोशिश की ।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें