मंडी में दो और मरीजों ने जीती करोनो से जंग !

0
1212
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

मंडी ! मंडी जिला के 2 और मरीजों ने कोरोना से जंग जीत ली है। श्री लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल नेरचौक में उपचाराधीन 2 कोरोना संक्रमित मरीजों की अस्पताल में दाखिले के दस दिन बाद लिए गए सैंपल की रिपोर्ट नेगेटिव आई हैं। वे 20 मई से अस्पताल में उपचाराधीन थे। यह जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. जीवानंद चौहान ने दी ।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

उन्होंने बताया कि मंडी में वर्तमान में कोरोना के 9 मरीज उपचाराधीन थे। उनमें से 4 नेरचौक अस्पताल में और 5 लोग ढांगसीधार स्थित कोविड केयर सेंटर में रखे गए थे। अब दो मरीजों के कोरोना नेगेटिव होने पर उपचाराधीन रोगियों की संख्या 7 हो गई है। इनमें 2 लोग नेरचौक और 5 ढांगसीधार में हैं।

20 मई को चार कोरोना संक्रमित मरीजों को नेरचौक अस्पताल में दाखिल किया गया था। उनमें से दुर्भाग्य से रत्ती की रहने वाली किडनी की बीमारी से ग्रसित एक 65 वर्षीय महिला का निधन हो गया था। अन्य तीन मरीजों के बीते कल सैंपल जांचे गए। उनमें से दो की रिपोर्ट नेगेटिव आई है, जबकि एक मरीज का सैंपल ठीक से नहंी लिया जा सका था, उसे दोबारा लेकर जांचा जाएगा।

डॉ. जीवानंद चौहान ने बताया कि जिन दो मरीजों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है उनमें सदर उपमंडल की कोटली तहसील की ग्राम पंचायत शिल्ली के 70 वर्षीय बुजुर्ग और उपमंडल गोहर के थाची की 23 वर्षीय युवती शामिल हैं। बुजुर्ग व्यक्ति को अस्पताल से डिस्जार्च कर दिया गया है, लेकिन युवती की तबीयत अभी पूरी तरह ठीक नहीं है, इसलिए उन्हें अभी अस्पताल में ही रखा गया है।

उन्होंने बताया कि मंडी जिला में अब तक कोरोना संक्रमण के कुल 12 मामले आए हैं। इनमें से 7 अभी उपचाराधीन हैं। दो मामलों में दुर्भाग्य से संक्रमितों का निधन हो गया, 3 मरीज ठीेक होकर अपने घर जा चुके हैं। जो लोग ठीक होकर घर गए हैं, उन्हें एक हफ्ते होम क्वारंटाइन रहने की हिदायत दी गई है।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखसुंदरनगर ! लाखों का ढंगा ताश के पत्तों की तरह गिरा !
अगला लेखसीटू राज्य कमेटी ने प्रदेशभर में स्वर्ण जयंती कार्यक्रम आयोजित किये !

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें