समय पूर्व दुकानें खोलने पर दो दुकानदारों के खिलाफ एफआईआर दर्ज !

- कफ्र्यू में ढील से पहले खोल दी दुकानें. ! कफ्र्यू के बाबजूद भी मेले में बदल रही बददी की सब्जी मंडियां...

0
1920
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

बद्दी ! प्रदेश में कोरोना वायरस के चलते लॉक डाउन व कफ्र्यू में मिलने वाली ढील का कुछ लोग नाजायज फायदा उठाने की कोशिश करते हैं। जिसका खामियाजा फिर आम लोगों को भी भुगतना पड़ता है। समूचे प्रदेश की तरह बददी-बरोटीवाल-नालागढ़ (बीबीएन) में कफ्र्यू के बीच तीन घंटे की छूट दी गई, ताकि लोग अपना जरूरी सामान खरीद सकें। लेकिन इस बात का कुछ दुकानदार तथा लोग गलत फायदा उठा रहे हैं।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

बुधवार को बीबीएन में कफ्र्यू में ढील केे बाद सब्जी मंडियों में मेले जैसा माहौल देखने को मिला। न तो कोई भी यहां सामाजिक दूरी का पालन करता दिखा और न ही दुकानदारों ने समयसीमा के नियमों को पालन किया। बीबीएन में कफ्र्यू के दौरान सुबह 8 से 11 बजे तक के लिए ढील दी गई है। लेकिन लोग सुबह 6 बजे ही सडक़ों पर उतर आए। बुधवार सुबह हालात यह थे कि सुबह 6 बजते ही सब्जी विके्रताओं ने पुरानी सब्जी मंडी पर कब्जा कर लिया। लोग भी सात बजे ही सब्जी लेने मार्केट पहुंच गए।

7 बजे ही बददी की पुरानी सब्जी मंडी का दृश्य एक मेले के रूप ने बदल गया। एक तरफ तो प्रशासन दावा करता है कि बीबीएन में सब्जियों के रेट ’यादा नहीं बसूले जाएंगे, लेकिन मैदानी हकीकत तो कुछ और ही है। हैरानी की बात यह है कि जब पूरे बीबीएन में कफ्र्यू है तो लोग समय से पहले सडक़ों पर कैसे आ रहे है। सब्जी मंडियों में लोग ऐसे एकत्रित हुए जैसे इस दिन के बाद उन्हें मार्केट में सब्जी कभी नहीं मिलेगी। लोग एक-दूसरे के साथ सट कर फलों सब्जियों की खरीदारी करने लग गए। सामाजिक दूूरी बनाए रखने में किसी ने भी पहल नहीं की।

बिना किसी भय और संभावित खतरे के लोग खरीददारी करने में डटे रहे। जिला तथा पुलिस प्रशासन बार-बार लाऊडस्पीकर के जरिए लोगों को सामाजिक दूरी और कोरोना संक्रमण के बचाव के बारे में संदेश दे रहे हैं। बावजूद इसके लोग प्रशासन की इस अपील को दरकिनार करकेे नियमों के विरुद्ध जाकर मार्केेट में खरीददारी करने में व्यस्त रहे। मीडिया की रिपोर्ट्स के बाद पुलिस प्रशाासन हरकत में आया और बरोटीवाला में पुलिस ने दो करियाना दुकानों के चालान करते हुए दुकानदारों केे खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई।

बिना रेट लिस्ट के बिके महंगे फल !!

बीबीएन में लगाई गई सब्जी मंडियों में न तो समाजिक दूरी का पालन किया जा रहा है और न ही सरकार द्वारा तय की गई सब्जियों की रेट लिस्ट लगाई गई। सब्जी तथा फल विक्रेता मनमाने दाम उपभोक्ताओं से बसूल रहे हैं। बीबीएन की मंडियों में मटर 60 रुपए, शिमला मिर्च 80 रुपए, नीबू 150 रुपए, आलू &0 से 40, प्याज 40 से 50 रुपए प्रति किलो बेचा जा रहा था। यहां तक कि केले 70 रुपए दर्जन अैर पपीता 80 रुपए किलो, संतरा 100 रुपएए, चीकू 100 रुपए, अंगूर 150 रुपए किलो, सेब 150 से 250 रुपए प्रति किलो व कीवी 25 से 40 रुपए पर पीस बेचा जा रहा है।

नियमों की अनदेखी पर किए चालान !!

कफ्र्यू में दिए गए ढील की समयावधि से पूर्व दुकानें खोलने वाले दुकानदारों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। बरोटीवाला के दो दुकानदारों को खिलाफ केस दर्ज किया गया है।
कफ्र्यू में ढील के समय ही दुकानदार दुकान खोलें अन्यथा कानूनी कार्यवाई अमल में लाई जाएगी। सभी लोग नियमों का पालन करते हुए पुलिस प्रशासन की सहायता करें।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखहमीरपुर। सरकार द्वारा 30 फीसदी वेतन भत्तों की कटौती के फैसले का स्वागत – राजेंद्र राणा !
अगला लेखबददी ! शब-ए-बारात पर कोई बाहर न निकले, घर के अंदर अता करें नमाज – एमएस रिजवी !

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें