करसोग ! भारतीय संस्कृति में दीप जलाने का बड़ा महत्व -विधायक हीरालाल !

0
759
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

करसोग ! भारतीय संस्कृति में दीपों का जलाने का बहुत बड़ा महत्व है और संस्कृत में हमारे पूर्वज ने भी दीपों के एक श्लोक द्वारा भावनाएं प्रकट की है *शुभं करोति कल्याणं आरोग्यं धनसम्पदः

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

शत्रु-बुद्धि-विनाशाय दीपज्योतिर्नमोस्तुते ! इसी श्लोक के चलते हुए हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज रविवार को भारत की जनता से यह अपील दी गई है । उपमंडल करसोग के स्थानीय विधायक हीरालाल ने भी आज करसोग की जनता के लिए यह अपील दी है की रात को 9:00 बजे सभी अपने घरों में दीपों को जलाएं उन्होंने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री के द्वारा यह अपील की है प्रत्येक घरों में चाहे मोमबत्ती हो या दीप, टॉर्च को जलाकर इस कोरोना वायरस को खत्म करने के लिए दीपोत्सव करें क्योंकि दीपज्योति ! तू हमारा शुभ करनेवाली, कल्याण करनेवाली, हमें आरोग्य और धनसंपदा देनेवाली, शत्रुबुद्धि का विनाश करनेवाली है ।

दीपज्योति, तुझे नमस्कार ! तू परब्रह्म है, तू जनार्दन है, तू हमारे पापों का नाश करती है इनका कहना है कि यह लड़ाई पूरा देश मिलकर लड़ रहा है और 5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए प्रकाश करके अंधकार को चुनौती देने के साथ साथ देशवासियों की सामूहिक शक्ति का प्रदर्शन करना भी है । उन्होंने इस दौरान लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने का भी आह्वान किया।

उन्होने कहा कि इस समय पुरा देश एक जुट होकर इस कोरोना वायरस जैसी महामारी से निपटने के लिए तैयार है।दीपज्योतिः | शुभं करोति कल्याणं : हीरा लाल पीयूष शर्मा करसोगभारतीय संस्कृति में दीपों का जलाने का बहुत बड़ा महत्व है और संस्कृत में हमारे पूर्वज ने भी दीपों के एक श्लोक द्वारा भावनाएं प्रकट की है *शुभं करोति कल्याणं आरोग्यं धनसम्पदः

शत्रु-बुद्धि-विनाशाय दीपज्योतिर्नमोस्तुते |* इसी श्लोक के चलते हुए हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज रविवार को भारत की जनता से यह अपील दी गई है । उपमंडल करसोग के स्थानीय विधायक हीरालाल ने भी आज करसोग की जनता के लिए यह अपील दी है की रात को 9:00 बजे सभी अपने घरों में दीपों को जलाएं उन्होंने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री के द्वारा यह अपील की है प्रत्येक घरों में चाहे मोमबत्ती हो या दीप, टॉर्च को जलाकर इस कोरोना वायरस को खत्म करने के लिए दीपोत्सव करें क्योंकि दीपज्योति ! तू हमारा शुभ करनेवाली, कल्याण करनेवाली, हमें आरोग्य और धनसंपदा देनेवाली, शत्रुबुद्धि का विनाश करनेवाली है । दीपज्योति, तुझे नमस्कार ! तू परब्रह्म है, तू जनार्दन है, तू हमारे पापों का नाश करती है इनका कहना है कि यह लड़ाई पूरा देश मिलकर लड़ रहा है और 5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए प्रकाश करके अंधकार को चुनौती देने के साथ साथ देशवासियों की सामूहिक शक्ति का प्रदर्शन करना भी है । उन्होंने इस दौरान लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने का भी आह्वान किया।
उन्होने कहा कि इस समय पुरा देश एक जुट होकर इस कोरोना वायरस जैसी महामारी से निपटने के लिए तैयार है। एक दीया देश के नाम जलाएं क्योंकि ये अंधकार से प्रकाश की ओर जाने वाली रौशनी है

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखचम्बा ! जिला पुलिस जुटी लोगों की सेवा में।
अगला लेखतब्लीगी जमात के लोगों को डीजीपी की चेतावनी – आज 5 बजे तक बताएं अपनी पहचान, नही तो होगी कार्यवाही।

बिलासपुर में एक नया कोरोना पॉजिटिव मामला सामने आया।

जिला बिलासपुर में एक और कोरोना पॉजिटिव मामला सामने आया है। ये व्यक्ति स्वारघाट में क्वारंटाइन किया गया था और यह नालागढ़ क्षेत्र के...

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें