बद्दी में केमिस्टों के पास 7 से 10 दिनों का स्टॉक, होने लगी दवाईयों की कमी !

0
675
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

बददी ! औद्योगिक नगर बददी बरोटीवाला में कफर्यू के दूसरे दिन खाद्य सामग्री के साथ सब्जियों की कमी आने लगी है। यही नहीं बीबीएन क्षेत्र में देश की 40 प्रतिशत दवाईयां उत्पादन करने के पश्चात भी दवाईयों की भारी कमी है। कैमिस्ट एसोसियशन के अध्यक्ष मनोज कौशल का कहना है कि राजमर्रा की जरूरी दवाईयों की बददी बरोटीवाला में भारी किल्लत आने लगी है।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

अमूमन हर कैमिस्ट के पास सात से दस दिन का किसी भी दवाई का ही स्टॉक होता है। परन्तु 22 मार्च को लगे जनता कर्फयू के बाद पांच दिन में ही अधिकांश कैमिस्टों को स्टॉक खत्म होने को आ गया है। उन्होंने कहा कि बाहर से कोई भी दवाई की सप्लाई सुचारू नहीं है तथा आधे से ज्यादा मरीजों को बिना दवाई के ही वापिस जाना पड रहा है। दूसरी ओर प्रशासन द्वारा हमारी दुकानों का समय बढाकर हमें ही मुश्किल में डाल दिया है।

क्योंकि हमें दवाईयों की उपलब्धता न होने के बाद भी दुकानों पर बैठना पड रहा है और मरीज बिना मास्क तथा सावधानी के ही दवाईयां खरीदने आ रहे हैं। उन्होंने सरकार के जरूरी दिशा निर्देशों पर सवाल उठाया कि आपूर्ति करने के लिए जिला प्रशासन तथा ड्रग विभाग ने दवाईयों को लेकर कोई नीति ही नहीं बनाई है।

उन्होने कहा कि रोजाना एक टैम्पो को चन्डीगढ, जिरकपुर लेजाने की इजाजत दी जाये। जिसमें सभी कैमिस्टों का रोज का सामान आ सके। ताकि मरीजों को दवाईयों को किसी भी प्रकार की कमी न आए।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखबीबीएन में आ रही समस्याएं- औद्योगिक कर्मचारी फंसे !
अगला लेखशिमला ! एसजेवीएन ने कोविड-19 के रोकथाम के मद्देनजर 1 करोड़ रुपए की मदद दी !

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें