सैंज ! विद्युत् परियोजना से प्रभावित लोग भूख हड़ताल पर बैठे !

0
669
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

सैंज ! हिमाचल प्रदेश पॉवर निगम लिमिटेड की 100 मेगावॉट विद्युत उत्पादन क्षमता वाली सैंज जल विद्युत परियोजना प्रबंधन के खिलाफ आज परियोजना से प्रभावित हुए ठेकेदार सप्लायर्स, भूमि व मकान मालिक भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं । परियोजना का निर्माण करने वाली हिंदुस्तान कंस्ट्रक्शन कंपनी द्वारा पिछले कई वर्षों से प्रभावित लोगों का पैसा नहीं दिया गया जबकि कंपनी ने लोगों की भूमि लीज पर ली थी इसके अलावा परियोजना में कार्य करने वाले ठेकेदारों, सप्लायर इत्यादि को भी अभी तक पूरा पैसा नहीं दिया गया । हालांकि इस संबंध में परियोजना के उद्घाटन के समय सभी प्रभावित लोगों ने अपनी बकाया राशि को अदा करने की बात रखी थी लेकिन उस वक्त परियोजना के मालिक होने के चलते हिमाचल प्रदेश पॉवर निगम लिमिटेड ने लिखित में आश्वासन दिया था कि सभी का बकाया पैसा लौटाया जाएगा ।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

जबकि आज 3 वर्ष बीत गए परंतु किसी को भी बकाया धनराशि तो दूर बल्कि निगम बात तक करने के लिए तैयार नहीं है । इस संबंध में हमने आज से कंपनी के शाढ़ावाई स्थित कार्यालय के बाहर चौथा दिन दिवसीय भूख हड़ताल शुरू कर दी है तथा कंपनी को अल्टीमेटम दिया जाता है कि अगर 5 दिनों में किसी तरह का कोई हल नहीं निकाला तो आमरण अनशन शुरू किया जाएगा । वहीं इस संबंध में हमने अनशन को संचालित करने के लिए सैंज हाईड्रो प्रॉजेक्ट लोकल कांट्रेक्टर्ज़ एन्ड लैण्ड लीज़ होल्डर्ज़ यूनियन का गठन भी किया है जिसमें सर्वसम्मति से रघुवीर सिंह को अध्यक्ष, मोहर सिंह, रामलाल व रामकृष्ण को उपाध्यक्ष तेजा सिंह महासचिव, भूमा ठाकुर, विचित्र सिंह तथा नारायण सचिव जबकि गोपाल शर्मा को कोषाध्यक्ष नियुक्त किया है । इसके अलावा कमेटी में राजकुमार, लीलाधर चौहान, डोला सिंह, बुद्धि सिंह, निर्मला देवी, चमन शर्मा, जवाहर गोविंद ठाकुर तथा राजेश शर्मा सहित अन्य सभी प्रभावित लोगों को सदस्य बनाया गया है ।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखसराज के लोगो ने बारिश व कोरोना वायरस से बचने के लिए देवताओ से की मांग।
अगला लेखधर्मशाला ! कोरोना वायरस को लेकर कांगड़ा में भी मेलों, त्यौहारों, टूर्नामेंट्स, रैलियों पर रोक !

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें