मंडी ! मेले और त्यौहार हमारी सांस्कृतिक परम्परा के परिचायक – प्रियंता शर्मा !

0
957
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

मंडी ! मेले और त्यौहार हमारी प्राचीन सांस्कृतिक परम्परा के परिचायक हैं। यह विचार निदेशक  विद्युत मंडल  हिमाचल प्रदेश प्रियंता शर्मा ने राज्यस्तरीय छेश्चु मेला रिवालसर में दूसरे दिन आयोजित होने वाले कार्यक्रमों की अध्यक्षता करते हुए व्यक्त किए ।
उन्होंने कहा कि धार्मिक स्थल रिवालसर की एक विशिष्ट पहचान है। यह स्थल धार्मिक आस्थाओं के साथ-साथ पर्यटन स्थल के रूप में भी उभर रहा है। छेश्चू मेले के दौरान सभी धर्मों की भागीदारी इस मेले को ओर भी सुखद व आकर्षक बना देती है।
उन्होंने कहा आज सभी बहनें अपने घर से समय निकालकर मेले में अपनी सांस्कृतिक प्रस्तुति के लिए आई जिसके लिए वे विशेष तौर पर बधाई की पात्र हैं।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

प्रियंता शर्मा ने महिलाओं व स्कूली बच्चों द्वरा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने पर अपनी तरफ से मेला कमेटी को पांच हजार रुपये देने की भी घोषणा की। उन्होंने मेले में आये सभी श्रद्धालुओं से आह्वान किया कि रिवालसर शहर के साथ झील के सुंदरता को बनाये रखें और मेले में सफाई का विशेष ध्यान रखें।
इस अबसर पर उन्होंने छेश्चु मेले में 25 महिला मंडलों के साथ स्कूल के बच्चों को इस राज्य स्तरीय मेले में आमंत्रित करने के लिए मेला कमेटी की पीठ थपथपाई।
इस अवसर पर कार्यकारी उपमंडल अधिकारी बल्ह राजेंदर ठाकुर, अध्यक्ष नगर पंचायत लाभ सिंह, उपाध्यक्ष मीना गुप्ता, प्रधान लोअर रिवालसर ग्राम पंचयत संजय कुमार, मेला अधिकारी एवं नायब तहसीलदार जैमल चंद, नगर परिषद के सभी सदस्यों सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखमण्डी ! कालेजों में छात्रों की मांगों को लेकर विभिन्न अभियान चलाए जाऐंगे – एसएफआई !
अगला लेखमंडी जिला में 3048 दिव्यांग लोगों को विशिष्ट पहचान पत्र जारी – ऋग्वेद ठाकुर !

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें