सुंदरनगर ! समझौते की राशि में गड़बड़ी पर मुख्य आरक्षी निलंबित !

0
1401
- विज्ञापन (Article Top Ad) -

सुंदरनगर ! पुलिस थाना बीएसएल कालोनी के हेड कांस्टेबल संजीव कुमार पर एसपी मंडी गुरदेव चंद शर्मा ने सख्त कार्रवाई को अमल में लाते हुए निलंबित कर लाईन हाजिर करने के साथ विभागीय जांच के आदेश दिए हैं। वहीं मामले में डीएसपी सुंदरनगर गुरबचन सिंह रणौत को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है। गौरतलब हैै कि पुलिस थाना बीएसएल कालोनी क्षेत्र में एक कार व बाइक दुर्घटना मामले में जांच अधिकारी मुख्य आरक्षी संजीव कुमार बीएसएल कॉलोनी पुलिस ने कार्रवाई को अमल में लाते हुए कार को टक्कर मारने के बाद बाईक चालक का पता लगाने के बाद दोनों पक्षों में 4800 रुपयों में सेटलमेंट करवा दी गई थी और बाईक सवार द्वारा हेड कांस्टेबल संजीव कुमार को राशि भी दे दी गई। जब शिकायतकर्ता रोहित पैसे लेने के लिए थाने जाने पर उससे 300 रुपयों का एलईडी(LED) बल्ब मंगवाया गया।

- विज्ञापन (Article inline Ad) -

शिकायतकर्ता द्वारा बल्ब देने के बाद जब अपनी सेटलमेंट राशि हैड कांस्टेबल से मांगी गई तो उसे 4800 की एवज में सिर्फ 3500 रुपए थमा दिए गए। हैड कांस्टेबल के इस व्यवहार पर रोहित ने अपनी बाकी राशि की मांग की तो संजीव कुमार ने उसे चालान व केस करने की धमकी देकर डरा धमकाया गया। इस पर शिकायतकर्ता रोहित द्वारा मामले की शिकायत एसपी मंडी को हेंड कांस्टेबल संजीव के खिलाफ शिकायत की गई। जिस पर एसपी मंडी द्वारा सख्त कार्रवाई अमल में लाते हुए हैड कांस्टेबल संजीव कुमार को सस्पेंड कर लाईन हाजिर के साथ-साथ विभागीय जांच के आदेश दिए गए हैं। मामले की पुष्टि करते हुए एसएचओ बीएसएल कालोनी प्रकाश चंद मिश्रा ने कहा कि मामले में हेड कांस्टेबल संजीव कुमार को एसपी मंडी आदेशानुसार सस्पेंड कर लाईन हाजिर कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि निलंबित अधिकारी के खिलाफ विभागीय जांच के आदेश भी दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि मामले में डीएसपी सुंदरनगर को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है।

- विज्ञापन (Article Bottom Ad) -
पिछला लेखमुख्याध्यापक संवर्ग अधिकारी संघ जिला चंबा की बैठक हुई सम्पन्न।
अगला लेखसुंदरनगर ! राजकीय संस्कृत महाविद्यालय में वार्षिकपारितोषिक वितरण उत्सव का आयोजन !

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें